पशुओं के चोट , मोंच , मरोड़ ( SPRAIN , STRAIN ) का होम्योपैथिक उपचार ।

कई प्रकार की चोट से मसल्स , टेन्डन या लिगामेन्ट में सूजन आ जाती है जिससे दर्द भी होता है । जिससे चाल में लंगड़ापन आ जाता है । ऐसी अवस्था में पशु को पूरी तरह आराम देना जरूरी है । चोट , मरोड़ होने पर वह भाग लाल , दर्दयुक्त तथा वहां सूजन हो…