बच्चे के शिर में रूसी का होम्योपैथिक उपचार । Homeopathic medicine for Scurf on the Head

शिर साफ न रखने या शिरको सदा गरम कपड़े से ढक रखने के कारण बच्चों को यह रोग होता है । पारा या कोई दूसरा धातुगत रोग होनेसे भी बच्चे को यह बीमारी हो सकती है । शिरपर पीली फुन्सियाँ निकलना , उनपर मोटी पपड़ी जमना , खुजलानेपर पपड़ीका निकल जाना और उसके नीचे लाल जख्म – सा दिखायी देना इस रोगके प्रधान लक्षण हैं ।

बच्चे के शिर में रूसी होम्योपैथिक दवा । Homeopathic medicine for kids dandruff

  • सल्फर ३० या 200 – यह इस रोगकी बढ़िया दवा है । फुन्सियों पर सूखी पपड़ियाँ , बदबू , खुजली , जरामें ही खून निकल पड़ना इत्यादि लक्षणों में सुबह शाम दो दो कई दिन खिलानेसे प्रायः रोग आराम हो जाता है ।
  • ग्रेफाइटिस 30 या 200 (4 बुंद 3 बार )- बदबूदार फुन्सियाँ और उनसे चिकना रस निकलना ।
  • कल्केरिया कार्ब 30 (4 बुंद 2 से3 बार ) – गण्डमाला धातु , फुन्सियपर सूखी और मोटी पपड़ी पड़ना , बहुत खुजली इत्यादि ।
  • हिपर सल्फर 30 (4 बुंद 3 बार ) – पारेका दोष , रसभरी फुन्सियाँ और उनमें दर्द , जख्मों में पीब पड़ना इत्यादि ।

इसे पढ़ें – बच्चों के दाँत निकलने का होम्योपैथिक उपचार Homeopathic treatment of Dentition

Leave a Reply

Your email address will not be published.