शरीर और साँसों की बदबू के कारण एवं आयुर्वेदिक, घरेलू उपचार

शरीर और साँसों में बदबू आने के आंतरिक और बाह्य दोनों तरह के कारण हो सकते हैं । एक तो खान – पान की गड़बड़ी या किसी रोग की वजह से बदबू आ सकती हैं , दूसरे शरीर और दाँतों व मुँह की साफ सफाई में की जा रही लापरवाही से भी बदबू की समस्या पैदा हो सकती हैं । बदबू की समस्या के यदि शारीरिक विकार , जैसे कि – दाँतों , मसूड़ों की खराबी , पेट की गड़बड़ी , टॉन्सिल की सूजन- पस , नाक व साइनस विकार , श्वासनली व फेफड़ों के विकार , मुँह के छाले रक्त की कमी , मधुमेह , यकृत – गुर्दो की बीमारी , पीनस आदि कारण हों तो आहार – विहार ठीक रखते हुए आवश्यक उपचार करना चाहिए ।

  1. बेलपत्र , आँवला , हरड़ चूर्ण मिलाकर शरीर में लेप करके कुछ देर बाद धो दें । इससे शरीर और पसीने की दुर्गंध से छुटकारा मिलता है ।
  2. सुपारी , जायफल , शीतलचीनी , कपूर , लौंग तथा लता कस्तूरी को पान में रखकर ज़रा सा चूना लगाकर चबाने से मुख शुद्धि होती है तथा दुर्गंध ख़त्म होती है । यह पान मसूड़े , दाँत तथा जीभ के लिए भी हितकारी है । ध्यान रखने योग्य इतना सा है कि रक्त – पित्त के रोगियों , बहुत दुर्बल , भूखे , प्यासे तथा मूर्छा से पीड़ित लोगों के लिये पान सेवन वर्जित है ।
  3. साँस में बदबू आती हो तो ऐसे लोगों को नीम की दातून नियमित करनी चाहिए । इसके अलावा खाने के बाद मुँह अच्छी तरह साफ़ रखें ।
  4. दो चम्मच शहद को 1 गिलास पानी में घोलकर गरारा करने से हफ्ते भर में मुँह की दुर्गन्ध से आसानी से छुटकारा मिल जाता है । इसके साथ दाँत की सफाई और खान – पान पर भी ध्यान दें तो उत्तम है ।
  5. मुँह की दुर्गंध दूर करने के लिए दोनों समय भोजन के बाद अथवा यदा – कदा सौंफ़ चबाना चाहिए । इससे हाजमा भी दुरुस्त होता है ।
  6. चंदन , मुक्ता , हरड़ , नागरमोथा , उशीर व लोध्र का लेप बनाकर शरीर में लगाने से दुर्गंध की समस्या से निजात मिलती है ।
  7. कूठ , हरड़ और नागरपान समान मात्रा में पीसकर पानी के साथ लेप बनाकर शरीर में लगाने से दुर्गंध आनी बंद होती है ।
  8. वच , कूठ , तज , छोटी इलायची , कमल की जड़ , नागकेसर सभी सममात्रा में लेकर कपड़छन चूर्ण बनाएं और शहद में मिलाकर 250 मि . ग्रा . की गोलियाँ बना लें । इन गोलियों को चूसने से मुँह की दुर्गंध दूर होकर सुगंध आने लगती है ।
  9. लोध , अनार का छिलका , रीठे के पत्ते , धाय के फूल एक में मिलाकर पीसकर लेप करने से शरीर की दुर्गंध मिटती है ।

गेंहूँ के जवारे के फायदे wheat juice benefits in hindi

हिचकी ( Hiccough ) की कुछ अचुक होम्योपैथिक दवा

Leave a Reply

Your email address will not be published.