मासिक धर्म की अधिकता के 5 घरेलू , आयुर्वेदिक उपचार ।

  1. ग्राम सफेदा काशगरी , 1 ग्राम लाल गेरू दोनों का मिलाकर पावडर बनाएं और मिश्री के साथ मिलाकर पानी से पीयें । अधिक रक्त आने में कमी होगी ।
  2. असवगंध के चूर्ण को मिश्री मिलाकर पानी के साथ लेने से मासिक धर्म में आने वाले खून में कमी आयेगी ।
  3. धनिये का काढ़ा बनायें और छानकर पिलायें ।
  4. राल का महीन चूर्ण बनाकर आवश्यकतानुसार मिश्री के साथ खायें ।
  5. जामुन की हरी ताजी छाल को सूखाकर पावडर बनालें सुबह – शाम गाय के दूध में एक चम्मच मिलाकर पीयें ।

मासिक धर्म की अनियमितता का घरेलू आयुर्वेदिक उपचार । Home Treatment of Irregular Periods in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.