भारतीय पशुओं की प्रमुख नस्लें ।Breeds Of Indian Animals

गायों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF Cow )

  • दूधारु नस्लें ( Milch breeds ) –

गिर , थारपारकर , साहीवाल , रेड सिंधी , राठी ।

  • बोझा ढोने वाली नस्लें ( Draught purpose breeds ) –

नागौरी , खिल्लारी , हल्लीकर , अम तमहल , मालवी , क ष्णघाटी की नस्ल , बछौर , कागेयम , सिरी , पोवार , खीरीगढ़ , गावलाच ।

इसे पढ़ें – पशुओं के कान से पीब बहना (ओटाइटिस) का कारण एवं उपचार । Treatment of OTITIS in Hindi

  • दोहरे उपयोग वाली नस्लें ( Daul purpose breeds )

कांकरेज , हरियाणा , राठी , ओंगोल , देवनी , निमाड़ी , मेवाती , डांगी ।

भैंसों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF BUFFALO )

  • मुर्रा ग्रुप – मुर्रा , नीली – रावी , कुडी , गोदावरी ।
  • गुजरात ग्रुप – सूरती , जाफराबादी , मेहसाना ।
  • सेन्ट्रल इण्डिया ग्रुप – नागपुरी , पंडरपुरी , जेरांगी , संबलपुर , कालाहांडी ।
  • साऊथ इण्डिया ग्रुप – टोडा , साऊथ कनारा । उत्तरप्रदेश ग्रुप – भदावरी , तराई ।

भेड़ों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF SHEEP )

  • राजस्थान – चोखला , नाली , मालपुरा , पुगल , जैसलमेरी , सोनाड़ी , मगरा ।
  • कश्मीर – गद्दी , करनाह , कश्मीर मेरिनो , चांगथांगी , पूंछी ।
  • उत्तरप्रदेश – जालौनी , मुजफ्फरनगरी ।
  • कर्नाटक – बेल्लारी , हसन , मंड्या , केंगुरी ।
  • गुजरात – पट्टनवाड़ी ।
  • तमिलनाडू – मेचेरी , किलाकर्सल , वेम्बुर , नागिरी , मद्रास रेड , ट्रिची ब्लेक ।
  • बिहार , बंगाल – छोटानागपुर , साहबादी ।
  • उड़ीसा – गंजम , बालंगर ।
  • पूर्वी राज्य – बोनपाला , टिब्बती भेड़ ।
  • आन्ध्र प्रदेश – नेल्लौर , डेक्कानी

घोड़ों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF HORSE )

काठियावाड़ी ( गुजरात ) , मारवाड़ी ( राजस्थान ) , भूटिया ( पहाड़ी राज्य , पंजाब , पश्चिमी हिमालय की तलहटी ) , मणिपुरी टटू , स्पीती टटू ( कांगड़ा ) ।

ऊंटों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF CAMEL )

  • ऊंटों की जातियाँ :- ( 1 ) बैक्टीरियन ( दो कूबड़ वाले ऊंट )

( 2 ) अरबी या ड्रोमडरी ( एक कूबड़ वाले ऊंट )

  • ऊंटों की नस्लें – जैसलमेरी , बीकानेरी , मालवी , कच्छी , बागड़ी , मेवाती , अफगानी , बंगाल , सिंधी ।
  • क्षेत्र के अनुसार नस्लें – रेगिस्तानी ऊंट , पहाड़ी ऊंट , नदीय ऊंट ।

कुत्तों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF DOG )

  • छोटे आकार की नस्लें – चिहुआहुआ ( दुनिया की सबसे छोटी नस्ल ) , पॉमेरेनियन , स्पिट्ज , डेचहंड , पिकनीज , पुडल , ल्हासा एप्सो , बुलडॉग , कॉकर स्पेनियल ।
  • बड़े आकार की नस्लें – ग्रेटडेन ( दुनिया की सबसे बड़ी नस्ल ) , सेंट बनाई , डॉबरमेन , एल्सेशियन , लेब्राडोर , अफगान हॉउंड , डेल्मेशियन , बॉक्सर , गोल्डन रेट्रीवियर ।

बकरियों की प्रमुख नस्लें ( BREEDS OF GOAT )

  • मांस देने वाली नस्लें – मलाबारी , बंगाली , उस्मानाबादी , संगमनेरी , कुची , गंजन , जलवाड़ी , गोहिलवाड़ी , सिरोही ।
  • दूध व मांस देने वाली नस्लें – जखराना , बीतल , जमुनापारी , बारबरी , सूरती ।
  • रेशे देने वाली नस्लें – मारवाड़ी , गही , चांगथांगी , चिगुं ।

सिरोही – (राजस्थान , गुजरात) , गद्दी , चम्बा – (हिमाचल , उत्तरांचल) , मारवाड़ी – (राजस्थान , गुजरात ) , चेंगु – (हिमाचल , उत्तर प्रदेश), चांगथांगी – (लद्दाख के ऊंचे पर्वत) , जखराना – (राजस्थान) , बारबरी – (उत्तरप्रदेश , राजस्थान ) , पश्मीना – (लद्दाख) , बीतल – (पंजाब , हरियाणा ) , उस्मानाबादी – (महाराष्ट्र ) , जमुनापारी – (उत्तर प्रदेश ) , संगमनेरी – (महाराष्ट्र) , जलवाड़ी – ( गुजरात ) , कन्नी – आदु – (तमिलनाडू) , गोहिलवाड़ी – (गुजरात) , गंजम – (उडीसा ) , मलाबारी – (केरल ) , बंगाली – (पं . बंगाल , पूर्वी राज्य)

और पढ़ें – पशुओं को होने वाले दस्त ( DIARRHOEA ) का होम्योपैथीक दवा

पशुओं में होने वाले रिंग वर्म ( RING WORM ) का उपचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.