बवासीर ( Piles ) का होम्योपैथिक दवाएँ

बवासीर ( Piles ) क्यों होता है ?

परिश्रम के चोर , भोग , विलासी , शराबी , कब्ज़ के रोगी , अक्सर बवासीर के शिकार हो जाते हैं | बार – बार जुलाब लेना , रबर के फोम या नरम गद्दी पर बैठना , शौच के समय कांखना , ज़ोर लगाना , आदि , कारण बवासीर पैदा करते हैं । बादी बवासीर में मटर जैसे मस्से मल द्वार पर हो जाते हैं , शिराऐं फूल जाती हैं । यह मस्से मल द्वार के अन्दर भी और या बाहर भी हो सकते हैं । जब मस्से फट जाते हैं तो उनसे खून निकलने लगता है।

बवासीर ( Piles ) का होम्योपैथीक दवा कौन है ?

  • खूनी या बादी बवासीर की ख़ास दवा । मलद्वार के चारों ओर लाली , खुजली एवम् जलन । :- सल्फर 1M , १५ दिन में एक खुराक
  • मलद्वार का संकुचन , खुजली , बादी बवासीर एवम् बार – बार मल त्यागने की इच्छा । :- नक्स वोमिका ३० या 200, आवश्यकतानुसार
  • जब काला खून निकले और दर्द बिल्कुल न हो , मलद्वार में तपकन महसूस हो । मलद्वार में दुखन एवम् चोट लगने की सी अनुभूति । :- हेमामैलिस Q या ३० दिन में ३ बार
  • खूनी बवासीर की रामबाण दवा । जलनयुक्त बवासीर । :- डोलिकोस Q या6 , दिन में3 3 बार
  • खूनी बवासीर , चमकीले लाल रंग खून निकले । कोई दर्द महसूस न हो । :- मिलिफोलियम Q या 6 , दिन में ३ बार
  • हर बार पाख़ाना होने के बाद चमकीले लाल रंग के खून की पिचकारी छूटे । नमकीन ठंडे पेय एवम् भोजन की इच्छा । :- फॉस्फोरस ३० , दिन में ३ बार
  • गुदा में तिनके फंसे रहने का एहसास और दर्दे , अत्यधिक कब्ज़ । कई दिन तक पाख़ाना न हो । बवासीर के साथ रोगी दिल का मरीज़ भी हो । :- कौलिन्सोनिया ३० , दिन में ३ बार
  • मस्सों में बहुत जलन , गर्म पानी से धोने से आराम मिले , बहुत बेचैनी हो । प्यास बढ़ी हो । :- आर्सेनिक २०० , दिन में २-३ खुराक दें
  • जब मस्सों को ठंडे पानी से धोने से आराम मिले । प्यास न लगे । :- एपिस मैल ३० , दिन में ३ बार
  • जब बवासीर के मस्सों में खड़े रहने या बैठे रहने पर दर्द हो मगर चलने – फिरने से आराम मिले । :- इग्नेशिया ३० , दिन में ३ बार
  • जब मस्सों में खून बहना रूकने के बाद अत्यधिक दर्द हो । :- एसिड नाइट्रिक 1M या 10M , आवश्यकतानुसार
  • बवासीर के मस्से ; रीढ़ के निचले भाग के आस – पास बेहद दर्द हो ; मलद्वार में तिनके फंसे होने या कीड़ों के रेंगने जैसा अहसास । :- एस्क्युलस ३० , दिन में ३ बार
  • मलद्वार के फटने बवासीर के कारण में कतरने जैसा दर्द हो। :- पियोनिया Q या ३० , दिन में तीन बार
  • Homeopathy Piles kit with sulphur, Pilen drops, BC17, siddhanth piles mixture
https://homeomart.com/?ref=9kz7veg4se

कब्ज़ ( Constipation ) का होम्योपैथिक दवाएं

गुर्दे में पथरी ( Renal Calculus ) का लक्षण तथा होम्योपैथिक दवाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.