पुनर्जन्म क्या है। पुनर्जन्म का अर्थ । What is rebirth and meaning of rebirth

पुनर्जन्म वैज्ञानिक है या केवल अवधारणा हैं ।

विज्ञान के अनुसार कोई भी पदार्थ कभी नष्ट नहीं होता बल्कि वह किसी अन्य रूप में परिवर्तित हो जाता है । जैसे हरे – भरे वृक्ष सैंकड़ो वर्ष बाद सूख जाते हैं । तब उन्हें हम वृक्ष न कहकर ‘ लकड़ी ‘ कहते हैं और वही लकड़ी जमीन के नीचे दबी रहती है तो सौ पचास वर्ष बाद कोयले के रूप में हो जाती है , कोयला जलकर राख और धुएँ में बदल जाता हैं । राख उड़कर इधर – उधर चली जाती है किन्तु नष्ट नहीं होती । विज्ञान का यह तथ्य आत्मा के अमर होने का और पुनर्जन्म की पुष्टि करता हैं ।

और पढ़ें-अभिवादन (Greeting) कैसे करें । गुड़मार्निंग , गुडनून , गुड ईवनिंग कहना उचित है या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.