ट्यूमर ( Tumour ) का लक्षण एवं उसका होम्योपैथिक दवाएँ

  • जब बहुत से लाइपोमा या बहुत से यूरा फाइब्रोमेटा शरीर पर हों । रोगी में बचपना हो एवम् मानसिक कम हुआ हो। :- बैराइटा कार्ब ३० या २००
  • स्तन में गांठ , शरीर पर बहुत से लाइपोमा ; बहुत खाने पीने के बावजूद भी दुबला – पतला हो । :- बैराइटा आयोड ३० या 200
  • लाइपोमा , खासकर शरीर के बाएं हिस्से में रोग हो । नमक खाने की इच्छा । बच्चों का सा स्वभाव । :- बैराइटा म्यूर ३० या 200
  • पेट के निचले हिस्से के कोमल उत्तकों में ट्यूमर खासकर जब पेट में चोट लगने का इतिहास हो । :-बैलिस पी . ३० या २००
  • ठंडे प्रकृति के रोगियों में , नाक में पॉलिप , बच्चेदानी में पॉलिप या अन्य कोई नरम वृद्धि जिनसे सहज ही रक्त स्राव हो । :- कैल्केरिया कार्ब ३० या २००
  • सख्त पत्थर की तरह की वृद्धि ; गर्दन , स्तन , आदि पर ट्यूमर । :- कैल्केरिया फ्लोर 12x या ३0
  • जबड़े का ट्यूमर , जबड़े की हड्डियों का ( Osteo Sarcoma ) | :-हैक्ला लावा 3x या 6X
  • नेत्र गुहा में हड्डी की सी ट्यूमर ; बच्चेदानी का फाइब्रोएड । :- काली आयोड ६ या ३०
  • Allen A59 Tumour Drops – Homeopathic medicine for Tumour
https://homeomart.com/?ref=9kz7veg4se

कैन्सर ( Cancer ) का होमियोपैथिक उपचार.

गुर्दे में पथरी ( Renal Calculus ) का लक्षण तथा होम्योपैथिक दवाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.