2021 में चूना खाने के फायदे

भारत के जो लोग चूने से पान खाते हैं , बहुत होशियार लोग हैं , पर तंबाकू नही खाना , तम्बाकू जहर हैं और चूना अमृत हैं , तो चूना खाइए , तम्बाकू मत खाइए और पान खाइए चूने का उसमें कत्था मत लगाइए , कत्था कैंसर करता हैं , पान में सुपारी मत डालिए सोंट डालिए , उसमें इलाइची , लौंग , केसर डालिए ।

महिलाओं के बीमारियों में चुना के फायदे

महिलाओं के लिए गर्भाशय की बीमारियों में यह बहुत अच्छा काम करता हैं जैसे कि सफेद पानी आना , लाल पानी आना , माहवारी आगे – पीछे होना , गर्भाश्य में गांठ बन जाना तथा अन्य सभी गर्भाशय से जुड़ी बीमारियों को चुना ठीक करता हैं । बाल टूटना , चेहरे के मुहांसे , हड्डी के टूटने पर , जोड़ो के दर्द में , हीमोग्लोबिन का प्रतिशत कम हो तो , हैपेटाईटिस A , B , C , D, E स्मरण शक्ति कम हो तो , हाथी पैर हो गया तो इन सब बीमारियों में चुना दही में अथवा पानी में मिला कर लेना चाहिए ।

पुरषों के लिये चूना के फायदे

पुरूषों में शुक्राणु बढ़ाने के लिए चूना गन्ने या संतरे या मौसमी के रस में लेना चाहिए ।

छोटे बच्चों के हाइट एवं दाँत के बिकास के लिए चुना के फायदे

14 साल से कम आयु के बच्चे जिनका कद छोटा हो , महिलाए जिनमें वक्ष का कम विकास हो , दांतों की किसी भी तरह की समस्या , इन सबमें में चूनेका सेवन करना लाभदायक हैं । मात्रा – एक गेहूँ के दाने बराबर दिन में एक बार ।

जोडों के दर्द में चुना के फायदे

जोड़ो का दर्द यदि बहुत पुराना हो भले 20 से 30 साल पुराना हो या जब डॉक्टर कहे कि घुटने बलदने पडेंगे उस समय चूना काम नहीं करेगा । उसको चूने की जगह हारश्रृंगार के पत्तों का काढ़ा देना पड़ेगा । इस पेड़ के 7-8 पत्तों को बारीक पीस कर चटनी जैसा बनाकर एक गिलास पानी में उबालें , आधा गिलास रह जाने पर सुबह खाली पेट पी लें । तीन महीने में यह समस्या बिल्कुल ठीक हो जायेगी । किसी तरह का बुखार होने की स्थिति में भी यह काढ़ा काम करता हैं । उस स्थिति में 7-8 दिन ही देना हैं ।

महिलाओं को अपने मासिक धर्म के समय अगर कुछ भी तकलीफ होती हो तो उसका सबसे अच्छी दवा हैं चूना ।

बहनो को अपने मासिक धर्म के समय अगर कुछ भी तकलीफ होती हो तो उसका सबसे अच्छी दवा हैं चूना । और हमारे घर में जो माताएं हैं जिनकी उम्र पचास वर्ष हो गयी हैं और उनका मासिक धर्म बंद हुआ , उनकी सबसे अच्छी दवा हैं चूना । जब कोई माँ गर्भावस्था में हैं तो चूना रोज खाना चाहिए क्योकि गर्भवती माँ को सबसे ज्यादा कैल्शियम की जरुरत होती हैं और चूना कैल्शियम का सबसे बड़ा भंडार हैं ।

गर्भवती माँ औऱ उसके बच्चे के लिये चुना के फायदे

गर्भवती माँ को चूना खिलाना चाहिए अनार के रस मे – अनार का रस एक कप और चूना गेहूँ के दाने के बराबर ये मिलाके रोज पिलाइए नौ महीने तक लगातार दीजिए तो चार फायदे होगे पहला फायदा होगा की माँ को बच्चे के जन्म के समय कोई तकलीफ नही होगी और नोर्मल डिलीवरी होगी , दूसरा यह हैं कि जब बच्चा पैदा होगा वो बहुत हस्ट – पुष्ट और तदंरुस्त होगा , तीसरा फायदा – वो बच्चा जिन्दगी में जल्दी से बीमार नही पडता जिसकी माँ ने चूना खाया है , चौथा सबसे बड़ा लाभ हैं वो बच्चा बहुत होशियार होता हैं बहुत इंटेलीजेंट होता हैं , उसका । Q बहुत अच्छा होता हैं ।

हड्डी टूट गई हो, कमर दर्द, घुटनों के दर्द में चुना के फायदे

चूना घुटने का दर्द ठीक करता हैं , कमर का दर्द ठीक करता हैं , कंधे का दर्द ठीक करता हैं , एक खतरनाक बीमारी हैं Spondylitis , वो चूने से ठीक होता हैं , कई बार हमारे रीढ़ की हड्डी में जो मनके होते हैं उसमें दूरी बढ़ जाती हैं , ये चूने से ठीक हो जाता हैं । अगर आपकी हड्डी टूट जाये तो टूटी हुई हड्डी को जोड़ने की ताकत सबसे ज्यादा चूने में हैं । चूना खाइए सुबह को खाली पेट ।

मुँह के रोग में चुना के फायदे

यदि मुँह में ठंड़ा गर्म पानी लगता हैं तो चूना खाओं बिल्कुल ठीक हो जाता हैं , मुँह में अगर छाले हो गए हैं तो चूने का पानी पियो तुरन्त ठीक हो जाता हैं ।

शरीर में जब खून कम हो जाये तो चूना के फायदे

शरीर में जब खून कम हो जाये तो चूना जरुर लेना चाहिए , अनीमिया है खून की कमी हैं , उसकी सबसे अच्छी दवा हैं ये चूना , चूना पीते रहो गन्ने के रस में , या संतरे के रस में , नही तो सबसे अच्छा हैं अनार के रस में – अनार के रस में चूना पिए खून बहुत बढ़ता हैं । एक कप अनार का रस गेहूँ के दाने के बराबर चूना सुबह खाली पेट । राजीव भाई कहते हैं कि चूना खाइए पर चूना लगाइए मत किसी को भी ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.