पशुओं में निमोनिया का होम्योपैथिक दवाई

न्युमोनिया ( PNEUMONIA )

फेफड़ों में सूजन होने को न्युमोनिया कहते हैं । इसमें बुखार , सांस तेज , बैचेनी , आंखें लाल होना हो सकता है । न्युमोनिया के साथ खांसी , ब्रोंकाइटिस , ट्रेकाइटिस भी हो सकते हैं । यह वाइरस या बैक्टीरिया के कारण होता है ।

  • एकोनाइट ( Aconite ) : न्युमोनिया की शुरूआती अवस्था में हर आधा घंटे बाद चार – पांच बार दें ।
  • ब्रायोनिया ( Bryonia ): तेज बुखार , सांस में तकलीफ हो , खांसी अधिक , सुस्ती हो तो दिन में तीन – चार बार तीन दिन तक दें ।
  • एंटीमोनियम टार्टर ( Antimonium Tartaricum ): हल्का बुखार , गीला कफ निकलता हो , झागदार लार गिरती हो ।
  • ड्रॉसेरा ( Drosera ): जब न्युमोनिया में खांसी व खांसी के साथ दर्द हो ।
  • लाइकोपोडियम ( Lycopodium ) : जब लिवर या पेट के रोगों के साथ न्युमोनिया हो , सांस में तकलीफ हो ।
  • बायोकेमिक दवाइयों का मिश्रण : फेरम फॉस 3x , केल्के फॉस 3x , काली म्यूर 3x , कालि फॉस 3x कालि सल्फ 3x , मैग फॉस 3x , नैट्रम म्यूर 3x , नेट्रम सल्फ 3x इन सभी दवाइयों को मिलाकर हर दो घंटे बाद दें ।

प्लुरो न्युमोनिया ( PLEURO – PNEUMONIA )

  • एकोनाइट ( Aconite ) : प्लुरोन्युमोनिया के इलाज की शुरूआत एकोनाइट से करनी चाहिए । जब सांस जल्दी जल्दी व छोटी हो । सांस में तकलीफ हो , नाड़ी तेज हो , मुंह सूखा व गर्म हो तो एकोनाइट पांच – दस बूंद हर घंटे या दो घंटे बाद तब तक दें जब तक बुखार उतर न जाय । जब बुखार उतर जाय तो दूसरी दवा शुरू करें ।
  • ब्रायोनिया ( Bryonia ) : प्रायः एकोनाइट के बाद ब्रायोनिया की जरूरत पड़ती है । इसे एकोनाइट के साथ हर घंटे बाद एक के बाद दूसरी दे सकते हैं | ब्रायोनिया को तब दें जब खांसी बार – बार आती हो , फेफड़ों के भाग में तेज दर्द हो ।
  • फॉस्फोरस ( Phosphorus ) : फॉस्फोरस , ब्रायोनिया और एकोनाइट को भी एक के बाद दूसरी उपयोग में ले सकते हैं । जब सांस लेने में भारी तकलीफ हो , खांसी छोटी लेकिन बार – बार होती हो , कफ चिकना या कभी – कभी ब्लड मिला हुआ निकले ।
  • आर्सेनिकम ( Arsenicum ) : जब रोगी बहुत ही कमजोर हो , सांस में आवाज आती हो , सांस में तकलीफ , नाक से डिस्चार्ज अधिक हो । इसे ब्रायोनिया व फॉस्फोरस के साथ लक्षणों के अनुसार दे सकते हैं ।
  • सल्फर ( Sulphur ) : जब प्लुरोन्युमोनिया जटिल हो गया हो , न्युमोनिया के साथ ब्रोन्काइटिस नाक से मवाद जैसा म्युकस पीला डिस्चार्ज निकलता हो ।
  • पशुओं में खांसी (Cough) का होम्योपैथिक दवा. मवेशियों में सर्दी जुकाम (Common Cold Or Catarrh) का होम्योपैथिक दवा

Leave a Reply

Your email address will not be published.