कांच निकलना ( Prolapsus of Rectum )

कांच निकलता क्यों है ?

जब बड़ी आंत का निचला भाग या फिर श्लेष्मा झिल्ली मलद्वार से बाहर निकल आती हो तो इसे कांच निकलना कहते हैं । यह कभी – कभी स्वयं ही अन्दर चली जाती है , कभी – कभी दबाने से अन्दर जाती है । यह रोग आम तौर पर कमज़ोर बच्चों को हो जाया करता है ।

कांच निकलने का कारण क्या है ?

कारण : बवासीर , कब्ज़ , पेचिश , मलद्वार में खुजली , सख़्त मल निकालने के लिए जोर लगाना , आदि ।

कांच निकलना किसको होता है ?

बच्चों में यह रोग अक्सर हो जाता है । बूढ़ों या गर्भवती महिलाओं को भी हो सकता है ।

कांच निकलने का होम्योपैथीक दवा कौन है ?

  • मुख्य दवा : पाख़ाना जाते समय या उसके पहले ही कांच निकल आए । :- पोडोफ़ाइलम ३० से CM तक , आवश्यकतानुसार
  • जब मलद्वार की संकोचन पेशी शिथिल हो जाने के कारण गुदा बाहर निकल आए । इस शिथिलता के कारण पाख़ाना तक अनजाने में हो जाता है । :- एलो ३० या २०० आवश्यकतानुसार
  • जब पेशाब करते समय कांच निकलने के साथ पाखाना तक हो जाए । :- एसिड म्यूर ६ या ३० , दिन में ३ बार
  • जब पाख़ाना जाते समय ज़रा सा जोर लगाने से ही कांच निकल आए । :- रूटा ३० , दिन में ३ बार
  • गुदा में खुजली के साथ कांच निकलना । :- इग्नेशिया ३० , दिन में ३ बार

कांच निकलने का बायोकैमिक दवा कौन सा है ?

बायोकैमिक औषधि : फैरम फॉस 6x

बवासीर ( Piles ) का होम्योपैथिक दवाएँ

ट्यूमर ( Tumour ) का लक्षण एवं उसका होम्योपैथिक दवाएँ

1 Reply to “कांच निकलना ( Prolapsus of Rectum )”

Leave a Reply

Your email address will not be published.