उत्तर दिशा में सिर करके क्यों नही सोना चाहिए।

उत्तर दिशा में सिर करके नहीं सोना चाहिए । क्यों ?

क्योंकि सनातन धर्म की धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मृतक का सिर उत्तर दिशा की ओर रहता है ।

वैज्ञानिक कारण – उत्तरी ध्रुव चुम्बकीय क्षेत्र का सबसे शक्तिशाली ध्रुव है । उत्तरी ध्रुव के तीव्र चुम्बकत्व के कारण , मस्तिष्क की शक्ति क्षीण हो जाती है अतः उत्तर की ओर सिर करके कदापि न सोयें ।

मृतक का सिर उत्तर दिशा की ओर क्यों रखते हैं ?

मृत्युकाल के समय प्राणी ( मनुष्य ) को उत्तर की ओर सिर करके इसलिए लिटाते हैं कि प्राणों का उत्सर्ग दशम द्वार से हो । चुम्बकीय विद्युत प्रवाह की दिशा दक्षिण से उत्तर की ओर होती है । कहते हैं कि मरने के बाद भी कुछ क्षणों तक प्राण मस्तिष्क में रहते हैं । अतः उत्तर दिशा में सिर करने से ध्रुवाकर्षण के कारण प्राण शीघ्र निकल जाता हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.