Top 18 Home Remedies for High BP: उच्च रक्तचाप के 18 घरेलू नुस्खे

उच्च रक्तचाप किसके कारण से होता है ?

उच्च रक्तचाप हृदय , गुर्दे और रक्त संचालन प्रणाली की गड़बड़ी के कारण होता है ।

उच्च रक्तचाप किसको होता है ?

यह रोग किसी को भी हो सकता है । यह चुपके – चुपके शरीर में आता है और कई तरह की बीमारियों को साथ लाता है । कई वर्षों तक तो इस रोग का पता ही नहीं चलता लेकिन जब पूर्ण रूप से इसका प्रकोप होता है । तब पता चलता है ।

जो लोग क्रोध , भय , दुख या अन्य भावनाओं के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं । उन्हें यह रोग अधिक होता है । जो लोग परिश्रम कम करते हैं तथा अधिक तनाव में रहते हैं , शराब या धूम्रपान अधिक करते हैं । उन्हें भी होता है ।

उच्च रक्तचाप के लक्षण क्या है ?

इसमें सिर में दर्द होता है और चक्कर आने लगते हैं । दिल की धड़कन तेज हो जाती है । आलस्य होना , जी घबराना , काम में मन न लगना , पाचन क्षमता कम होना , और आँखों के सामने अंधेरा आना , नींद न आना आदि लक्षण होते हैं ।

उच्च रक्तचाप के घरेलू उपाय क्या है ?

इसके घरेलू उपाय निम्न लिखित हैं ।

  1. कच्चे लहसुन की एक – दो कली पीसकर प्रातः काल चाटने से उच्च रक्तचाप सामान्य होता है ।
  2. शहद में नींबू का रस मिलाके सुबह – शाम चाटने से उच्च रक्तचाप कम होता है ।
  3. कोमल नीम की पत्ती चबाने से या उनका रस निकालकर पीने से भी रक्तचाप कम होता है । और ठीक भी होता है ।
  4. मुसम्बी के रस के साथ उपवास हो तो भी आराम मिलता है ।
  5. उच्च रक्तचाप के रोगी को साधारण नमक की जगह सेंधा नमक का उपयोग लाभकारी होता है ।
  6. नियमित पपीता खाने और ताजे मीठे सेब खाने से रक्त चाप नीचे आता है । दिन में और कुछ न लें ।
  7. सफेद प्याज के रस को शहद में मिलाकर लें ।
  8. पुदीने की पत्तियाँ + सेंधा नमक + कालीमिर्च + किसमिस की चटनी बनाकर खायें ।
  9. प्रातःकाल देशी गाय का गोमूत्र पीने से उच्च रक्त चाप कम होता है ।
  10. उबले हुए आलू सेंधा नमक के साथ खायें ।
  11. चुकन्दर + गाजर + सन्तरा + पपीते का रस ( बराबर मात्रा में ) पीयें ।
  12. तरबूज का रस सेंधा नमक के साथ लेने से काफी आराम मिलता है ।
  13. प्रतिदिन रात को गरम पानी में त्रिफला चूर्ण लेने से यह बीमारी दूर होती है ।
  14. सौंफ , जीरा और मिश्री को बराबर मात्रा में मिलाकर चूर्ण बनायें तथा सुबह – शाम सादे पानी से लें आराम मिलेगा ।
  15. आँवले का रस सबसे अधिक लाभकारी है । अथवा आँवले का मुरब्बा भी ले सकते हैं ।
  16. खाने में मूली का नियमित सेवन करें ।
  17. सर्पगन्ध बूटी की जड़ का पावडर बनाकर दिन में सामान्य पानी में तीन बार लें यह अच्छी औषधि है ।
  18. गरम पानी में नींबू निचोड़कर और उसमें शहद मिलाकर ( गुनगुने पानी में ) लगातार पन्द्रह दिन तक पानी पीयें उच्च रक्तचाप सामान्य होता जायेगा ।

होम्योपैथीक से करें हाई ब्लड प्रेशर दूर

Low blood pressure (कम रक्तचाप) से ना हों परेशान करें होम्योपैथी इलाज

Leave a Reply

Your email address will not be published.